रवि का लंड याद करके माँ चूत खुजला रही थी 2

New Hindi Sex Story

Lover Hidden Sex

हेलो दोस्तों मैं रॉकी फिर एकबार आपके लिए लेकर आया हूं मेरी मम्मी की कहानी. तो पिछली जो कहानी थी “रवि का लंड याद करके माँ चूत खुजला रही थी 1” उसमें मैंने आपको बताया कि कैसे रवि के साथ मम्मी की चैटिंग मुझे मिली थी और अब उसके आगे बताता हूं कि क्या हुआ…. Lover Hidden Sex

जिसको पता नही उन्हें बता दू, मेरी मम्मी का नाम सरिता है, फिगर: 34-40-46 बिल्कुल सीधी साधी रहती है… मैं जब मम्मी की हिस्ट्री चेक की तो उसने मुझे बहुत कुछ मिला ही था लेकिन जब मैंने दूसरी चैटिंग चेक की हो उसमें रवि के साथ जो चैटिंग थी वह कुछ ऐसी थी.

रवि : आओ ना आज मिलते है.

सरिता : आज दोपहर में आऊंगी.

रवि : ठीक है.

सरिता : क्या पहन के आऊ ??

रवि : वो ब्लैक साड़ी.

सरिता : ओके…

रवि : कहां आना है पता है ना?

सरिता : पिछली बार जहां मिले थे वही न.

रवि : हां हां.

सरिता : ठीक है १ बजे तक आती हूं…

रवि : ओके.

अब यह सब पढ़कर मुझे पता चला कि आज मम्मी की चूदाई होने वाली है. मैं 1:00 बजने का इंतजार करने लगा…12:30बज गए और मम्मी ने साड़ी बदलना शुरू कर दी मैं चुपके से उनके रूम की तरफ भागा और दरवाजे से देखने लगा मम्मी ने अपनी अलमारी से ब्लैक साड़ी निकाली और ब्लैक ब्लाउज भी.

आप सबको पता है कि मम्मी ब्रा पेंटी नहीं पहनती इसलिए उसने बिना ब्रा का ही ब्लाउज पहन लिया और बिना पैंटी के ही साड़ी पहन ली… करीब 1:00 बजने के आसपास मम्मी घर से निकली कुछ सामान लाने के बहाने…. जैसे वह निकली मैं उनका पीछा करने लगा उन्होंने मार्केट से ऑटो ली और वह शिवाजी नगर की तरफ जाने लगी.

मैं भी अपनी बाइक लेकर फोटो के पीछे पीछे भागने लगा…. शिवाजीनगर पहुंचते ही मम्मी उतरी और ऑटो को पैसे दिए और वह एक गली में घुसी… मैं थोड़ा दूर ही खड़ा रहा… जब मम्मी गली में घुसी, मैं एक दुकान के सामने अपनी बाइक पार्क करके गली में घुस गया.

दो-तीन गलियां पार करने के बाद मम्मी एक छोटे से घर में घुस गई ….अब मैं भी वो घर के पास पहुंच गया लेकिन मुझे अब समझ नहीं आ रहा था कि घर में क्या हो रहा है, ये मैं कैसे देखूं फिर मैं थोड़ा सा पीछे जाते हुए देखा घर के पीछे कुछ जगह छोड़कर दीवार थी कंपाउंड वॉल जैसी, तो मैं पीछे तरफ चला गया वहां की खिड़की से झांकने लगा.

पहले तो मुझे कुछ दिखाई नहीं दे रहा था लेकिन फिर मैं एक पत्थर के ऊपर खड़ा रहा और दूसरी खिड़की से झांका तो मुझे अंदर का नजारा साफ दिख रहा था… अंदर मैंने देखा एक आदमी बेड पर बैठा हुआ था और मम्मी के हाथ में ग्लास था और वो पानी पी रही थी…

जैसे ही मम्मी का पानी पीना खत्म होगा वह दोनों एक दूसरे से लिपट गए वह मम्मी की गांड दबा रहा था और ऊपर से होंटो को चूस रहा था… मम्मी भी मजे उसके होंठ चूस रही थी… उसने मम्मी का साड़ी का पल्लू नीचे गिराया मम्मी भी उसके बालों में हाथ डालकर उसका साथ देने लगी…

कुछ देर तक एक दूसरे को चाटने के बाद वो रुक गए और फिर मम्मी ने कहा, “रवि…मैं बहुत दिनों से इंतजार कर रही थी के कब तुम्हारे पास आऊ….पर जो भी करना है जल्दी करो मुझे 3 बजे तक घर भी जाना पड़ेगा…”

रवि बोला, ” अरे मेरी जान तुम अभी तो आयी हो, पहले शुरू तो कर ले ठीक से फिर टाइम का देखते है…”

अब मुझे समझा यही रवि है… अब वो दोनो फिर से लिपट लगे और एक दूसरे के बदन पर हाथ फेरने लगे… कभी रवि मम्मी की चूचियां दबाता तो कभी गांड… मम्मी ने उसकी टीशर्ट निकाल फेंकी और उसके छाती पर अपने हाथ फिरने लगी… तब तक वो मम्मी का ब्लाउज खोल चुका था…

मम्मी के लटके हुए बस उसने हाथ में दिए और बारी-बारी से उन्हें चूसने लगा… एक एक चूची वो मुंह में ले कर चूस रहा था… कभी दोनो को पकड़ के उनके बीच में जीभ से चाट ता तो कभी निप्पल को चूसता… अब मम्मी गरम होने लगी थी…

मम्मी ने एक हाथ उसके पैंट के ऊपर से ही रगड़ना शुरू कर दिया… रवि ने तुरत अपनी पैंट का हुक खोला और जल्दी से अपनी पैंट और अंडरवियर भी निकल फेंकी और फिर से मम्मी की चूची मसलने लगा… अब मम्मी का हाथ रवि के तने हुए लन्ड पर था और वो उसे बहुत अच्छे से हिला रही थी…

अब रवि ने मम्मी की साड़ी उतरना शुरू कर दी और बस कुछ ही सेकंड में साड़ी के साथ पेटीकोट भी निकला और अब मम्मी पूरी तरह से नंगी थी… चूत पूरी साफ और चिकनी दिख रही थी… दोनों ने एक दूसरे को स्माइल दी और मम्मी अब बेड पर टांगे खोल कर लेट गई…

रवि ने घुटनो पर बैठ कर मम्मी की जांघें चाटना शुरू कर दिया और धीरे धीरे वो चूत की तरफ बढ़ने लगा…जैसे ही उसके होंठ चूत से मिले मम्मी ने उसके बाल पकड़ लिए और मम्मी के मुंह से, “अह्ह्ह्ह रविस्सस्स…..” ऐसे निकला…. रवि ने अब अब चूत चाटना शुरू किया…

मम्मी की आंखें बंद थी और मम्मी के मुंह से आह्ह्ह आह्ह्ह् निकलने लगा… मम्मी की वो बड़ी बड़ी जांघें हवा में हिल रही थी… मैं लन्ड को बाहर निकाल के मसलने लगा…मेरी सगी मां अंदर किसी और के साथ पूरी नंगी थी….

थोड़ी देर चूत चाटने के बाद अब रवि ने मम्मी को उठाया और वह खुद बेड पर बैठ गया और मम्मी उसके सामने खड़ी थी… अब उसने लन्ड की तरफ इशारा किया और मम्मी को लंड चूसने को कहा… मम्मी मना कर रही थी लेकिन उसने मम्मी के मुंह में अपने उंगली डाल दी और मम्मी उसकी उंगली चूसने लगी… “Lover Hidden Sex”

ऐसे ही उंगली से मुंह पकड़ पकड़ कर उसने अपने लन्ड तक मम्मी का मुंह लाया और मम्मी उसकी तरफ देखने लगी और उसने धीरे से मम्मी के मुंह में अपना लन्ड पेल दिया और मम्मी अब धीरे-धीरे उसका लन्ड चूसने लगी… बड़े प्यार से मम्मी आइसक्रीम की तरह उसका लन्ड चूस रही थी और वह ऊपर से आंखें बंद करके मजे ले रहा था…

मम्मी कभी उसके लन्ड को चाटती तो कभी उसके टट्टे चाटती… कभी तो टट्टे मुंह में भी ले लेती थी अब मम्मी ने धीरे-धीरे करके पूरा लुंड गिला कर दिया… अब वह थोड़ा सा रुका और उसने मम्मी के मुंह में ही लंड रहने दिया और अपने दोनों हाथ बेड पर रखकर अपनी कमर ऊपर उठा कर वैसे ही बैठे-बैठे मम्मी का मुंह चोदने लगा…

मेरी संस्कारी मम्मी किसी और का लन्ड अपने मुंह में लेकर मजे से चूस रही थी…. थोड़ी देर बाद चुसाई होने के बाद रवि बेड पर लेट गया और मम्मी उस पर आ गई उसके ऊपर आने के बाद मम्मी ने अपने हाथों से लंड को सेट किया और अपने चूत में ले लिया… “Lover Hidden Sex”

मैं खिड़की की तरफ से खड़ा था इसलिए मुझे सिर्फ मम्मी की गांड दिख रही थी और इतनी बड़ी गांड वो भी नंगी… और वो भी चोदते हुए… जब मैं देख रहा था मुझे काफी मजा आ रहा था लेकिन, मुझे कुछ लड़कों की आवाज आई और मैं नीचे उतरा.

मैंने देखा कि पीछे मेरी तरफ कुछ 3 लड़के आ रहे थे… उनके हाथ में सिगरेट थी इसलिए पीने के लिए वो वहां आते होगे ऐसे लग रहा था… मैने अपना लन्ड पैंट में डाल दिया… जब उन्होंने मुझे वहां देखा तो मुझसे पूछा-

“सिगरेट पी ली क्या भाई…”

मैंने कहा, “मैं सिगरेट नहीं पीता.”

मैं डर गया मुझे कुछ नहीं समझ रहा था… फिर उसमें से एक लड़का पत्थर पर चढ़ा और उसने खिड़की से अंदर जाकर और वह धीरे से बोला- “अंदर चूदाई चल रही है.”

फिर वह तीनों ने एक-एक करके पत्थर पर चढ़कर अंदर देखा… एक लड़का बाजू से कुछ पत्थर उठा लाया और वो तीनो खिड़की को थोड़ा और खोल के एक साथ देखने लगे… उसमे से एक बोला, ” और भाई को भी जगह दे ना, और मुझे भी पत्थर पर खड़ा कर दिया अब हम चारो चूदाई देखने लगे… “Lover Hidden Sex”

मुझे बड़ी शर्म आ रही थी… मेरी सगी मां अंदर नंगी है और ये अनजान लड़के उन्हें देख रहे है… मैं चुप चाप देख रहा था… वो लड़के देखते हुए धीरे धीरे बात करने लगे उसमे से एक ने तो वीडियो बनाना शुरू भी कर दिया था… मैं कुछ बोल नहीं पाया…

एक बोला, “क्या गांड है यार रंडी की.”

दूसरा, “साली अपने को मिल जाए तो मजा आ जाए.”

तीसरा, “तीनो मिल कर चोदेंगे इसको तो…”

ये सुन के मुझे पहले बुरा लगा लेकिन मेरा लन्ड फिर से खड़ा होने लगा… फिर मैं उनकी बाते सुनते हुए अंदर देखने लगा… मम्मी उछल उछल के लन्ड की सवारी कर रही थी.

रवि ने कहां, “सरिता मेरी जान तू मेरी माल है… तुझे कैंप में जैसे चोदा था पहली बार वही मजा तू हर बार देती है…”

मम्मी बोली, “तुम्हारा लन्ड ही तो मेरी प्यास बुझाता है रवि… तुम्हारे बिना तो मैं उंगली से काम चलती हूं… आआह्ह्ह्हह रवि आआआह्हह्ह कितना मजा है तुम्हारे लन्ड में…आआआआह्हह्ह्ह….”

रवि – मेरी रानी, इस उमर में भी तेरे बदन में इतनी गर्मी है…

सरिता – आआआह्हह्हह्ह्ह बहुत मजा आ रहा है रविऽऽऽऽऽ.

अब ये बाते सुन कर उन लडको को भी मम्मी का नाम पता चल गया… और अब वो तीनो ने अपने लन्ड बाहर निकाले, तीनो के लन्ड 6 – 7 इंच के ही थे… और सरिता सरिता करते हुए वो लन्ड हिलाने लगे… अब मम्मी नीचे उतरी और रवि भी उठ गया.

दोनो बेड से नीचे आ चुके थे फिर रवि ने मां को किस करना शुरू किया और वो दोनो नीचे फर्श पर लेट गए… मम्मी नीचे लेट गई और रवि अब मम्मी के ऊपर आ गया… मम्मी ने अपने दोनो पैर रवि के कंधे पर रख दिए और रवि ने अपना लन्ड चूत में घुसेड़ दिया… चूत और लन्ड गीले होने के वजह से रवि की स्पीड बढ़ रही थी… और दोनो में बाते भी होने लगी…

रवि : ” आह सरिता क्या गरम चूत है रे तेरी.”

सरिता मम्मी : “मजा आ रहा है ना अपनी माल को चोदते हुए आआआह्ह्हह्हह रविऽऽऽऽऽ…..

रवि : “अह्ह्ह्हह बहुत ज्यादा मेरी जान…”

सरिता मम्मी : “तेज करो और तेज आआआआह्हह्हह.”

रवि : “मेरे कुछ फ्रेंड्स भी तुझे चोदना चाहते है जान.”

मम्मी रुक गई और रवि को रुका के बोली-

सरिता मम्मी : “मुझे रंडी बनाना चाहते हो….????”

अब रवि ने स्पीप्ड बढ़ा दी…

रवि : “क्यों तुझे अलग अलग लन्ड मिलेंगे तो मजा नही आयेगा क्या…”

सरिता मम्मी : “मजा तो आएगा रवि आह्ह्ह्ह्ह…..पर मै उनसे कैसे चूद सकती हूं…”

रवि : “तुझे चुदने से मतलब…ज्यादा मत सोच…मेरा निकलने वाला है…”

सरिता : “आह्ह्ह्ह् मैं पीना चाहती हू…”

रवि ने झटके देना शुरू कर दिए और तेजी से मम्मी को चोदने लगा…मम्मी उसको कस के पकड़ी हुई थी और आह्ह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह अअह्ह्ह्हह कर रही थी… अब रवि उठा और मम्मी भी उठ गई और के मुंह के पास लन्ड ले कर उसने रवि का सारा रस अपने मुंह में भर लिया और उसे देखते हुए ही निगल लिया… फिर दोनो टॉवल से अपने शरीर को पोछने लगे…

बाहर लड़के भी झड़ गए और बोलने लगे…”यार इस रंडी का पता लगाओ सारे मिलके चोदेंगे इसको…”

फिर एक ने मुझसे पूछा, “भाई तू जानता है क्या इसको कौन है ये?”

मैं बोला ” नही… मैं यहां से जा रहा था तो मुझे आवाज आयी और मैं देखने लगा…”

वो बोला, ” ठीक है हम पता लगा लेंगे….सरिता नाम है इसका…रंडी सरिता…” “तुझे भी बुलायेगे जब इसे चोदेंगे तब”…

मैं चुपचाप खड़ा रहा और अंदर देखने लगा… अब मम्मी ने साड़ी पहन ली थी और वो जाने लगी तभी रवि ने फिर से एक किस की और एक किस के बाद मम्मी बाहर चली गई… अब वो लडको ने मेरा नंबर लिया और मुझे वीडियो सेंड कर दिया… उसमे से एक मेरी मम्मी की पीछे चला गया था घर देखने के लिए… “Lover Hidden Sex”

मैं भी अपनी बाइक ले कर निकला और जब घर के पास आया तो मैने उस लड़के को जाते हुए देखा… मैने गाड़ी भगाई और जल्दी से घर में आ गया… घर आते ही मैंने बाथरूम में जा कर वीडियो देखी और फिर के बार मूठ मार ली और अपने रूम में आया… अब आगे देखना है रवि मम्मी को किस किस से चुदवाएगा… मेरी रंडी मम्मी की कहानी अच्छी लगी हो तो कमेंट में जरूर बताना… अगला पार्ट जल्द ही ले कर आऊंगा… ईमेल : [email protected]

Visited 102 times, 1 visit(s) today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *